झंझट

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

झंझट । उ॰— पार परोसिन डाहै हो निस दिन करत कुफार ।—गुलाल॰, पृ॰ ५४ ।

झंझट संज्ञा स्त्री॰ [अनु॰]

१. व्यर्थ का झगड़ा । टंटा । बखेड़ा ।

२. प्रपंच । परेशानी । कठिनाई । क्रि॰ प्र॰—उठाना ।—में पड़ना ।—में फँसना ।