झगा

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

झगा संज्ञा दे॰ [देश॰]

१. छोटे बच्चों के पहनने का कुछ ढीला कुरता । उ॰—नंद उदै सुनि आयौ हो वृषभानु कौ जगा । दैबे कौं बड़ौ महर, देत ना लावै गहर लाल की बधाई पाऊँ लाल कौ झगा ।—सूर॰ १० ।३९ ।

२. वस्ञ । शरीर पर पहनने का कपड़ा । उ॰—(क) झगा पगा अरु पाग पिछौरी ढाढिन को पहिरायो । हरि दरियाई कंठ लगाई परद्रा सात उठायो ।—सूर (शब्द॰) । (ख) सीस पगा न झगा तन में प्रभु जाव े को आहि बसै किहि ग्रामा ।—कविता कौ॰, भा॰ १, पृ॰ १४९ ।