झूठमूठ

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

झूठमूठ क्रि॰ वि॰ [हिं॰ झूठ +अनु॰ मूठ] बिना किसी वास्तविक आधार के । झूठे ही । यों ही । व्यर्थ । जैसे,—उन्होंने झूठमूठ एक बात बनाकर कह दी ।