टँड़िया

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

टँड़िया संज्ञा स्त्री॰ [सं॰ ताड अथवा देश॰] बाँह में पहनने का एक गहना जो अनंत के आकार का, पर उससे भारी और बिना घुँडी का होता है । टाँड़ । बहूँटा ।