टकुआ

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

टकुआ संज्ञा पुं॰ [सं॰ तर्कुक, प्रा॰ तक्कुअ]

१. एक प्रकार का सूआ जो चरखे में लगा रहता है । तकला ।

२. बिनौला निकालने की चरखी में लगा हुआ लोहे का एक पुरजा ।

३. छोटे तराजू या काँटे के पलड़ों में बँधा हुआ तागा ।