टङ्कोरना

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

टंकोरना क्रि॰ स॰ [अनु॰]

१. धनुष की रस्सी को खींचकर उससे शब्द उत्पन्न करना । टंकारना ।

२. ठोकर लगाना । ठोकर मारकर उत्पन्न करना ।

३. तर्जनी या मध्यमा उँगली की कुंडली बनाकर उसकी नोक को अँगूठे से दबाकर बलपूर्वक छोड़ना जिससे किसी वस्तु में जोर से टक्कर लगे ।