टाँकीबन्द

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

टाँकीबंद वि॰ [हिं॰ टाँकी+ फा॰ बंद] (इमारत, दीवार या जुड़ाई) जिसमें लगे हुए पत्थर पहुओं या दोनों और गड़नेवाली कीलों के द्वारा एक दूसरे से खूब जुड़े हों । जैसे, टाँकीबंद जुड़ाई । टाँकीबँद इमारत । विशेष—दो पत्थरों के जोड़ के दोनों ओर आमने सामने दो छेद किए जाते हैं । इन्हीं छेदों में दो ओर झुकी हुई कीलों को ठोककर छेदों में गला हुआ सीसा भर देते हैं जिससे पत्थर के दोनों टुकड़े एक दूसरे से जकड़कर मिल जाते हैं । किले की दीवारों, पुल के खंभों आदि में इस प्रकार की जुड़ाई प्राय: होती है ।