टाँस

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

टाँस संज्ञा स्त्री॰ [हिं॰ टानना (=खींचना)] हाथ या पैर के बहुत देर तक मुड़े रहने के कारण नसों की सिकुड़न या तनाव जिससे फँसने की सी असह्य पीड़ा होने लगती है । यह पीड़ा प्राय: क्षणिक होती है । क्रि॰ प्र॰—चढ़ना ।