ठड़िया

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

ठड़िया संज्ञा पुं॰ [हिं॰ ठाड़] वह नैचा जिसकी निगाली बिलकुल खड़ी होती है । विशेष—ऐसा नैचा लखनऊ में बनता है और मिट्टी की फरशी में लगाया जाता है । मुसलमान इसका व्यवहार अधिक करते हैं ।