ठम्भन

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

ठंभन † संज्ञा पुं॰ [सं॰ स्तम्भन, प्रा॰ ठंभन] रुकने की स्थिति । रुकावट । उ॰—धिन यो ठंभन जग माहीं, एक हरि बिन दूजा नाहीं ।—राम॰ धर्म॰, पृ॰ २५३ ।