ठहरौनी

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

ठहरौनी संज्ञा स्त्री॰ [हिं॰ ठहराना, पुं॰ हिं॰ ठहरावनी]

१. विवाह में लेन देन का करार ।

२. किसी भी प्रकार का पारस्परिक करार या निश्चय ।