ठाँ

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

ठाँ ^१ संज्ञा स्त्री॰ पुं॰ [सं॰ स्थान, प्रा॰ ठाण]दे॰ 'ठाँव' । उ॰— यौ सब ठाँ दरसै बरसै घनआनंद भीजि अराधि कृपाई ।— घनानंद, पृ॰ १५० । यौ॰—ठाँ ठाँ = स्थान स्थान पर । उ॰—ठाँ ठाँ मधुर मथानो बजै । जनु नव आनंद बुद अंगजै ।—नंद॰ ग्रं॰, पृ॰ २४८ ।

ठाँ ^२ संज्ञा पुं॰ [अनुध्व॰] बंदूक की आवाज ।