डपटना

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

डपटना ^१ क्रि॰ स॰ [हिं॰ डपट + ना (प्रत्य॰)] डाँटना । क्रोध में जोर से बोलना । कड़े स्वर से बोलना ।

डपटना ^२ क्रि॰ अ॰ [हिं॰ रपटना] तेज दौड़ना । वेग से जाना ।

डपटना । उ॰—गरजति तरजनिन्ह तरजत बरजत सयन नयन के कोए ।—तुलसी (शब्द॰)

२. भला बुरा कहना । बिगड़ना ।

३. गरजना । उ॰—सिंह व्याघ्रों का तरजना जिसे सुन विचारी कोमल वालाओं के हृदय का लरजना—इस दुर्ग के गुर्जो ही से बैठे बैठे सुन लो ।— श्यामा॰, पृ॰ ७८ ।