डब

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

डब ^१ संज्ञा पुं॰ [सं॰ द्रव] तरल । जैसे, आँखों का डब डब होना । विशेष—इस शब्द का स्वतंत्र प्रयोग नहीं मिलता । डबक, डबकना, डबकौंहँ आहि प्रचलित शब्दौं में इसका रूप मिलता है ।

डब ^२ संज्ञा पुं॰ [हिं॰ डब्बा]

१. जेब । थैला । मुहा॰—डब पकड़कर कुछ कराना = गरदन पकड़कर कुछ काम कराना । गला दबाकर काम कराना । जैसे,—रुपया देगा कैसे नहीं डब पकड़कर लूँगा । डब में आना = वश में होना । काबू में आना ।

२. कुप्पा बनाने का चमड़ा ।