ढुलिया

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

ढुलिया † ^१ संज्ञा पुं॰ [हिं॰ ढोल + इया (प्रत्य॰)] दे॰ 'ढोलकिया' । उ॰— जैसे नटवा चढ़त बाँस पर, ढुलिया ढोल बजावै ।— कबीर ॰ श॰, भा॰ १, पृ॰ १०२ ।

ढुलिया † ^२ संज्ञा स्त्री॰ [हिं॰ ढुलना]

१. छोटी ढोलक ।

२. छोटा पालना या डोली । सज्जा सहित इक ढुलिया लैयो ओ पानन की ड़ौली जू ।—नंद॰ ग्रं॰, पृ॰ ३३१ ।