तंतरी

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

तंतरी पु संज्ञा पुं॰ [सं॰ तंत्री] वह तारवाले बाजे बजाता हो । उ॰— आयो दुसह बसंत री कंत न आए बीर । जन मन बेधत तंतरी मदन सुमन के तीर ।— श्रृ॰ संत॰ (शब्द॰) ।