तंत्री

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

तंत्री ^१

१. बीन, सितार आदि बाजों में लगा हुआ तार ।

२. गुड़ूची । गुरुच ।

३. शरीर की नस ।

४. एक नदी का नाम ।

५. रज्जु । रस्सी ।

५. वह बाजा जिसमें, बजाने के लिये तार लगे हों । तंत्र । जैसे, सितार, बीन, सारंगी आदि ।

७. वीणा ।

तंत्री ^२ संज्ञा पुं॰ [सं॰ तन्त्रिन्]

१. वह जो बाजा बजाता हो ।

२. वह जो गाता हो । गवैया । उ॰— तंत्री काम क्रोध निज दोऊ अपनी अपनी रोति । दुविधा दुंदुभि है निसिवासर उपजावति विपरूत ।— सूर (शब्द॰) ।

३. सैनिक (को॰) ।

तंत्री ^३ वि॰

१. जिसमें तार लगे हों । तार का बना हुआ ।

२. जो तारवाला हो ( जैसे, वीणा) ।

३. तंत्र का अनुसरण करनेवाला [को॰] ।

तंत्री ^४ वि॰ [सं॰ तन्त्रिन्]

१. आलसी ।

२. अधीन ।