तक्र

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

तक्र संज्ञा पुं॰ [सं॰]

१. मट्ठा । छाछ । मठा । उ॰—छलकत तक्र उफनि अँग आवत नहिं जानति तेहि कालहि सों ।—सूर (शब्द॰) ।

२. शहतूत के पेड़ का एक रोग ।