तगीर

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

तगीर पु संज्ञा पुं॰ [अ॰ तगीर, तरईर] बदलने की क्रिया या भाव । परिवर्तन । बदलना । कुछ का कुछ कर देना । तब्दीली । उ॰—(क) अहदी गह रोग अनंता । जागीर तगीर करंता ।—विश्राम (शब्द॰) । (ख) जोबन आमिल आइ कै भूषन कर तदबीर । घट बढ़ रकम बनाई सिसुता करी तगीर ।—रसिनिधि (शब्द॰) ।