तपस्विनी

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

तपस्विनी संज्ञा स्त्री॰ [सं॰]

१. तपस्या करनेवाली स्त्री ।

२. तपस्वी की स्त्री ।

३. पतिव्रता या सती स्त्री ।

४. जटा- मासी ।

५. वह स्त्री जो अपने पति के मरने पर केवल अपनी संतान का पालन करने के लिये सती न हो और कष्टपूर्वक अपना जीवन बितावे ।

६. दीन और दुखिया स्त्री ।

७. बड़ी गौरखमुंडी ।

८. कुटकी । कटुरोहिणी ।