तरतीब

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

तरतीब संज्ञा स्त्री॰ [अ॰] वस्तुओं की अपने ठीक ठीक स्थानों पर स्थिति । यथास्थान रखा या लगाया जाना । क्रम । सिलसिला । जैसे,—किताबें तरतीब से लगा दें । क्रि॰ प्र॰—करना ।—लगाना ।—सजाना । मुहा॰—तरतीब देना = क्रम से रखना या लगाना । सजाना ।