तैयार

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

तैयार वि॰ [अ॰]

१. जो काम में आने के लिये बिलकुल उपयुक्त हो गया हो । सब तरह से दुरुस्त या ठीक । लैस । जैसे, कपडा़ (सिलकर) तैयार होना, मकान (बनकर) तैयार होना, फल (पककर) तैयार होना, गाडी़ (जुतकर) तैयार होना, आदि । मुहा॰—गला तैयार होना = गले का बहुत सुरीला और रस— युक्त होना । ऐसा गला होना जिससे बहुत अच्छा गाना गाया जा सके । हाथ तैयार होना = कला आदि में हाथ का बहुत अभ्यस्त और कुशल होना । हाथ का बहुत मँज जाना ।

२. उद्यत । तत्पर । मुस्तैद । जैसे—(क) हम तो सबेरे से चलने के लिये तैयार थे, आप ही नहीं आए । (ख) जब देखिए तब आप लड़ने के लिये तैयार रहते हैं ।

३. प्रस्तुत । उपरस्थित । मौजूद । जैसे,—इस समय पचास रुपए तैयार हैं, बाकी कल ले लीजिएगा ।

४. हृष्ट पुष्ट । मोटा ताजा । जिसका शरीर बहुत अच्छा और सुडौल हो । जैसे, यह घोडा़ बहुत तैयार है ।

५. संपूर्ण । मुकम्मल (को॰) ।

६. समाप्त । खत्म (को॰) ।

७. पक्व । पुख्ता (को॰) ।

८. कटिबद्ध । आमादा (को॰) ।

९. सुसज्जित । आरास्ता (को॰) ।