त्रिदोषज

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

त्रिदोषज ^१ वि॰ [सं॰] तीनों दोषों अर्थात् वात, पित्त और कफ से उत्पन्न ।

त्रिदोषज ^२ संज्ञा पुं॰ [सं॰] सन्निपात रोग ।