थेगली

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

थेगली संज्ञा स्त्री॰ [हिं॰] दे॰ 'थिगली' । उ॰—पाँच तत्त कै गुदड़ी बनाई । चाँद सुरज दुइ थेगली लगाई ।—कबीर॰ श॰, भा॰ २, १४० ।