दमा

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

दमा संज्ञा पुं॰ [फा़॰ दमह्] । एक प्रसिद्ध रोग । श्वास । साँस । विशेष— इस रोग में श्वासवाहिनी नाली के अंतिम भाग में, जो फेफड़ों के पास होता है, आकुंचन और ऐंठन के कारण साँस लेने में बहुत कष्ट होता है, खाँसी आती है और कफ रुककर बड़ी कठिनता सा धीरे धीरे निकलता है । इस रोग के रोगी को प्रायः अत्यंत कष्ट होता है, और लोगों का विश्वास है कि यह रोग कभी अच्छा नहीं होता । इसी लिये इसके संबंध में एक कहावत बन गई है कि दमा दम के साथ जाता है ।