दरिया

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

दरिया ^१ संज्ञा पुं॰ [फा़॰]

१. नदी ।

२. समुद्र । सिंधु । उ॰— उ॰— (क) तजि आस भी दास रघूपति को दसरथ्थ के दानि दया दरिया ।— तुलसी (शब्द॰) । (ख) दरिया दधि किया मथन भोम फट्टिय खह तुट्टिय ।— पृ॰ रा॰, १ । ६३९ । यौ॰— दरियादिल = उदार ।

दरिया ^२ संज्ञा पुं॰ [हिं॰ दरना] दलिया ।

दरिया ^३ संज्ञा पुं॰ [देश॰] निर्गुंण पंथी एक संत । यौ॰— दरियादासी ।