दसी

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

दसी संज्ञा स्त्री॰ [सं॰ दशा]

१. कपड़े के छोर पर का सूत । छोर ।

२. कपड़े का पल्ला । थान का आँचल । उ॰—जाता है जिस जान दे, तेरी दसी न जाय ।—कबीर (शब्द॰) ।

३. बैलगाड़ी की पटरी ।

४. चमड़ा छीलने का औजार । रापी ।

५. पता । निशान । चिह्न ।