दान्त

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

दांत ^१ वि॰ [सं॰ दान्त]

१. जिसका दमन किया गया हो । वशीभूत । दबाया हुआ । उ॰—तो क्या मैं भ्रम में थी नितांत । संहार- बध्य असहाय दांत ।—कामायनी, पृ॰ २४० ।

२. जिसने इंद्रियों को वश में कर लिया हो । जिसका शरीर तप आदि का क्लेश सह सके ।

३. जो दाँत का बना हों ।

४. दाँत संबंधी ।

दांत ^२ संज्ञा पुं॰

१. मैनफल ।

२. पहाड़ पर की बावली ।

३. विदर्भ के राजा भीमसेन के दूसरे पुत्र जो दमयंती के भाई थे ।

४. दानकर्ता । दाता (को॰) ।

५. दमनक नाम का वृक्ष (को॰) ।