दामिनी

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

दामिनी संज्ञा स्त्री॰ [सं॰]

१. बिजली । विद्युत् । उ॰— सोहैं साँवरे पथिक पाछे ललना लोनी । दामिनी बरन गोरी लखि सखि तृन तोरी, बीती हैं बय किसोरी जोबन होनी ।— तुलसी ग्रं॰, पृ॰ ३६४ ।

२. स्त्रियों का एक शिरोभूषण जिसे बेंदी या बिंदिया भी कहते हैं । दाँवनी । उ॰—दामिनी सी दामिनी सुभामिनी सँवारि सीस, कहती कुँवर होत कमिनी के क्यों लजात ।— रघुराज (शब्द॰) ।