दीवार

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

दीवार संज्ञा स्त्री॰ [फा॰]

१. पत्थर ईंट मिट्टी आदि को नीचे ऊपर रखकर उठाया हुआ परदा जिससे किसी स्थान को घेर कर मकान आदि बनाते हैं । भीत । मुहा॰— दीवार उठाना = दीवार बनाना । भीत खड़ी करना दीवार खड़ी करना = दीवार बनाना ।

२. किसी वस्तु का घेरा जो ऊपर उठा हो । जैसे, टोपी को दीवार जूते की दीवार, चूल्हे की दीवार ।