दुर्लभ

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

दुर्लभ ^१ वि॰ [सं॰]

१. जो कठिनता से मिल सके । जिले पाना सहज न हो । दुष्प्राप्य ।

२. अनोखा । बहुत बढ़िया ।

३. प्रिय ।

दुर्लभ ^२ संज्ञा पुं॰

१. कचूर ।

२. विष्णु ।