देरी

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

देरी † संज्ञा स्त्री॰ [फा़॰] दे॰ 'देर' । उ॰—यों ही शंख असंख्य हो गए लगी न देरी ।—साकेत, पृ॰ ५१० ।