दोस्ती

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

दोस्ती संज्ञा स्त्री॰ [फा़॰]

१. मित्रता । स्नेह ।

२. अनुचित संबंध । याराना (बाजारू) ।

दोस्ती रोटी संज्ञा स्त्री॰ [फा़॰ दोस्ती + हिं॰ रोटी] एक प्रकार की रोटी जो आटे की दो लोइयों के बीच में घी लगाकर और एक को दूसरी पर रखकर बेलते और तब तवे पर घी लगाकर पकाते हैं । दो परत की रोटी । दुपड़ी । विशेष—पकने पर इसमें की दोनो लौइवाँ अलग हो जाती हैं ।