धंधा

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

धंधा संज्ञा पुं॰ [सं॰ धनधान्य या देश॰]

१. धन या जीविका के लिये उद्योग । काम काज । जैसे,—वह घर का कुछ काम घंधा नहीं करती । यौ॰—काम धंधा । गोरखधंधा ।

२. उद्यम । व्यावसाय । कार बार । पेशा । रोजगार । जैसे, (क) उसे किसी काम धंधे में लगा दो । (ख) आजकल कोई काम धघा नहीं है, खाली बैठे हैं । विशेष—इस शब्द का प्रयोग लिखने पढ़ने की भाषा में 'काम' शब्द के साथ अधिक होता हैं ।