सामग्री पर जाएँ

नथना

विक्षनरी से


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

नथना ^१ संज्ञा पुं॰ [सं॰ नस्त (=नाक)]

१. नाक का अगला भाग । नाक का वह चमड़ा जो छेदों के परदे का काम देता है । मुहा॰—नथना फुलाना = क्रोध करना । गुस्सा दिखलाना । नथना फूलना = क्रोध आना ।

२. नाक का छेद ।

नथना ^२ क्रि॰ अ॰ [हिं॰ नाथना का प्रे॰ रूप]

१. किसी के साथ नत्थी होना । नाथा जाना । एक सूत्र में बँधना ।

२. छिदना । छेदा जाना । जासे,—मेरे पैर काँटों से नथ गए हैं ।