नवनीत

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

नवनीत संज्ञा पुं॰ [सं॰]

१. मक्खन ।

२. श्रीकृष्ण ।

नवनीत गणप संज्ञा पुं॰ [सं॰] पुराणानुसार एक गणेश या गणपति का नाम ।

नवनीत धेनु संज्ञा स्त्री॰ [सं॰] पुराणानुसार दान के लिये एक प्रकार की कल्पित गौ जिसकी कल्पना मक्खन के ढेर में की जाती है । विशेष—कहते हैं, इस गौ के दान से शिवसायुज्य प्राप्त होता है और विष्णुलोक में वास होता है । वराह पुराण में इसका विस्तृत विवरण हुआ है ।