ना

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

ना ^१ अव्य॰ [सं॰] एक शब्द जिसका प्रयोग अस्वीकृति या निषेध सूचित करने के लिये होता है । नहीं । न ।

ना पु ^२ संज्ञा पुं॰ [सं॰ नर अथवा नृ] मनुष्य । (डिं॰) ।

ना पु ^३ संज्ञा पुं॰ [सं॰ नाभि] नाभि । (डिं॰) ।

ना कदर वि॰ [फा़॰ ना + अ॰ कद्र]

१. जिसकी कोई कदर न हो । जिसकी कोई प्रतिष्ठा न हो ।

२. जो किसी की कदर करना न जानता हो । जिसमें गुणग्राहकता न हो ।

ना कदरी संज्ञा स्त्री॰ [फा़॰ ना + अ॰ कद्र + फा़॰ ई (प्रत्य॰)] ना कदर होने की क्रिया या भाव ।

ना कबूल वि॰ [फा़॰ ना + अ॰ कबूल] आस्वीकृत । नामंजूर [को॰] ।

ना नुकर संज्ञा पुं॰ [हिं॰ न + करना] नाहीं । इनकार । क्रि॰ प्र॰—करना ।