नाला

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

नाला ^१ संज्ञा पुं॰ [सं॰ नाल, नालक] [स्त्री॰ अल्पा॰ नाली]

१. पृथ्वी पर लकीर के रूप में दूर तक गया हुआ गड्ढा जिससे होकर बरसाती पानी किसी नदी आदि में जाता है । जलप्रणाली ।

२. उक्त मार्ग से बहता हुआ जल । जलप्रवाह । क्रि॰ प्र॰—बहना ।

३. रंगीन गंडेदार सूत । दे॰ 'नाड़ा' ।

नाला ^२ संज्ञा पुं॰ [सं॰ नाल] कमल का दंड [को॰] । यौ॰—नालायंत्र = बंदूक । आग्नेयास्त्र ।

नाला ^३ संज्ञा पुं॰ [फा॰] पुकार । आर्तनाद । चिल्लाहट । जोर की आवाज [को॰] ।