निकालना

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

निकालना क्रि॰ सं॰ [सं॰ निष्कासन, हिं॰ निकासना]

१. बाहर करना । भीतर से बाहर लाना । निर्गत करना । जैसे, घर से निकालना, बरतन में से निकालना, चुभा हुआ काँटा निकालना । संयो॰ क्रि॰—डालना ।—देना ।— लेना ।—ले जाना । मुहा॰—(स्त्री को) निकाल लाना या ले जाना = स्त्री ये अनुचित संबंध करके उसे उसके घर से अपने यहाँ लाना या लेकर कहीँ चला जाना ।

२. व्याप्त या ओतप्रोत वस्तु को पृथक् करना । मिली हुई, लगी हूई या पैवस्त चीज को अलग करना । जैसे, बीज से तेल निकालना, पत्ती से रस निकालना, फल से छिलका निकालना । संयो॰ क्रि॰—डालना ।—देना ।—लेना ।

३. पार करना । एक ओर से दूसरी ओर ले जाना या बढ़ाना । अतिक्रमण कराना । जैसे— दीवार के छेद में सें इसे उस पार निकाल दो । संयो॰ क्रि॰—देना ।—ले चलना ।—ले जान ।

४. गरम कराना । ले जाना । गुजर कराना । जैसे,—(क) वे बारात इसी सड़क से निकालेंगे । (ख) हम उसे इसी ओर से निकाल ले जायँगे । संयो॰ क्रि॰—ले चलना ।—ले जाना ।

५. किसी ओर को बढ़ा हुआ करना । जैसे,— चबूतरे का एक कोना उधर निकाल दो । संयो॰ क्रि॰—देना ।

६. निश्चित करना । ठहराना । उदभावित करना । जैसे, उपाय निकालना, रास्ता निकालना, दोष निकालना, परिणाम निकालना । संयो॰ क्रि॰—देना ।—लेना ।

७. प्रादुर्भूत करना । उपस्थित करना । मौजूद । करना ।

८. खीलना । व्यक्त करना । स्पष्ट करना । प्रकट करना । जैसे,—वाक्य का अर्थ निकालना ।

९. छेड़ना आरंभ करना । चलाना । जैसे,—बार निकालना, चर्चा निकालना ।

१०. सबके सामने लाना । देख में करना । जैसे,— अभी मत निकालो, लड़के देखेंगे तो रोने लगेंगे ।

११. मेल या मिलेजुले समूह में से अलग करना । पृथक् करना । जैसे,— (क) इनमें से जो आम सड़े हों उन्हें निकाल दो । (ख) इनमें से जो तुम्हारे काम की चीजें हों उन्हें निकाल लो । संयो॰ क्रि॰—डालना ।—देना—लेना ।

१२. घटना । कम करना । जैसे,— पाँच में से तीन निकाल दो । संयो॰ क्रि॰—देना ।—डालना ।

१३. फँसा, बँघा, जुड़ा या लगा न रहने देना । अलग करना । छुड़ाना । मुक्त करना । जैस,—गले से फंदा निकालना, कोट से बटन निकालना । संयो॰ क्रि॰—डालना ।—देना ।—लेना ।

१४. काम से अलग करना । नौकरी से छुड़ाना । बरखास्त करना । जैसे,— इस नौकर को निकाल दो । संयो॰ क्रि॰—देना ।

१५. पास न रखना । दूर करना । हटाना । जैसे,— इस घोड़े को अब हम निकाल देंगे । संयो॰ क्रि॰—देना ।

१६. बेंचना । खपाना । जैसे, माल निकालना । संयो॰ क्रि॰—देना ।

१७. सिद्ध करना । फलीभूत करना । प्राप्त करना । जैसे,— अपना काम निकालने में वह बड़ा पक्का है । संयो॰ क्रि॰—लेना ।

१८. निर्वाह करना । चलाना । जैसे,— किसी प्रकार काम नकालने के लिये यह अच्छा है । संयो॰ क्रि॰—लेना ।

१९. किसी प्रश्न या समस्या का ठीक उत्तर निश्चित करना । हल करना । जैसे,— यह सवाल तुम नहीं निकाल सकते ।

२०. लकीर की तरह दूर तक जानेवाला वस्तु का विधान करना । जारी करना । फैलाना । जैसे, नहर निकालना, सड़क निकालना । संयो॰ क्रि॰—देना ।

२१. प्रचलित करना, जारी करना । जैसे, कानून निकालना, कायदा निकालना, रीति निकालना ।

२२. नई बात प्रकट करना । आविष्कृत करना । ईजाद करना । जैसे, नई तरकीब निकालना, कल निकालना ।

२३. संकट, कठिनाई आदि से छुटकारा करना । बचाव करना । विस्तार करना । उद्धार करना । जैसे,— इस संकट से हमें निकालो ।

२४. प्रस्तुत करके सर्वसाधारण के सामने लाना । प्रचारित करना । प्रकाशित करना । जैसे,—(क) उस प्रकाशक ने अच्छी पुस्तकें निकाली हैं । (ख) अखबार निकालना ।

२५. रकम जिम्मे ठहरना । ऊपर ऋण या देना निश्चित करना । जैसे,— उसने सौ रुपए हमारे जिम्मे निकाने हैं ।

२६. प्राप्त करना । ढूँढ़कर पाना । बरामद करना । जैसे,— पुलिस ने उसके यहाँ चोरी का माल निकाला है ।

२७. दूसरे के यहाँ से अपने वस्तु ले लेना । जैसे, बैंक से रुपया निकालना । संयो॰ क्रि॰—देना ।

२९. घोड़े, बैल आदि को सवारी लेकर चलना या गाड़ी आदि खींचना । सिखाना । शिक्षा देना । जैसे,— (क) यह सवार घोड़ा निकालना है । (ख) यह घोड़ा अभी गाड़ी में नहीं निकाल गया है ।

३०. प्रवाहित करना । बहाना ।

३१. सुई से बेल बूटे बनाना ।