पंचगब्ब

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

पंचगब्ब पु संज्ञा पुं॰ [सं॰ पञ्चगव्य, प्रा॰ पंच + गव्व] दे॰ 'पंचगव्य' । उ॰ —पञ्चगब्ब अस्नान करि सीस सहस घट मंडि । दीपदान धृत सहस सिव कुसुमंजलि सिर छंडि ।—पृ॰ रा॰, ७ । २ ।