पंचमुद्रा

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

पंचमुद्रा संज्ञा पुं॰ [सं॰ पञ्चमुद्रा] तंत्र के अनुसार पूजनविधि में पाँच प्रकार की मुद्राएँ—आवाहनी, स्थापनी, सन्नीधापनी, संबोधिनी, सम्मुखीकरणी ।