पंचवाण

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

पंचवाण संज्ञा पुं॰ [सं॰ पञ्चवाण]

१. कामदेव के पाँच वाण जिनके नाय ये हैं—द्रवण, शोषण, तापन, मोहन और उन्मादन । कामदेव के पाँच पुष्पवाणों के नाम ये हैं—कमल, अशोक, आम्र, नवमल्लिका और नीलोत्पल ।

२. कामदेव ।