पदवी

विक्षनरी से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

पदवी संज्ञा स्त्री॰ [सं॰]

१. पंथ । रास्ता ।

२. पद्धति । परिपाटी । तरीका ।

३. वह प्रतिष्ठा या मानसूचक पद जो राज्य अथवा किसी संस्था आदि की ओर से किसी योग्य व्यक्ति को मिलता है । उपाधि । खिताब । जैसे, राजा, राय बहादुर, डाक्टर, महामहोपाध्याय, आदी । उ॰—साँच कहे तो पनही खावैं । झूठे बहु विधी पदवी पावैं ।—भारतेंदु ग्रं॰ भा॰ १, पृ॰ ६७० । विशेष—पदवी नाम के पहले अथवा पीछे लगाई जाती है ।

४. ओहदा । दरजा ।

५. स्थान ।