परब

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

परब ^१ संज्ञा पुं॰ [सं॰ पर्वन्] दे॰ 'पर्व' । उ॰—राम तिलक हित मंगल साजा । परब जोग जनु जुरेउ समाजा ।—मानस, १ ।४१ ।

परब ^२ संज्ञा स्त्री॰ [सं॰ पर्व ( = पोर, खंड)] किसी रत्न वा जवाहिर का छोटा टुकडा़ ।