परिचित

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

परिचित वि॰ [सं॰]

१. जिसका परिचय हो चुका हो । जाना बूझा । ज्ञात । मालूम । जैसे,—इस पुस्तक का विषय मेरा परिचित नहीं है ।

२. जिसको परिचय हो चुका हो । वह जो किसी को जान चुका हो । अभिज्ञ । वाकिफ । जैसे,—मैं उनके स्व- भाव से बिलकुल परिचित नहीं हूँ ।

३. जान पहचान रखनेवाला । मिलने जुलनेवाला । मुलाकाती । जैसे,—मेरी परि चित मंडली अब इतनी बड़ी हो गई है कि मिलने जुलने में ही प्रायः मेरा सारा समय लग जाता है ।

४. जैन दर्शन के अनुसार वह स्वर्गीय आत्मा जो दो बार किसी चक्र में आ चुकी हो ।

५. इकट्ठा किया हुआ । ढेर लगा हुआ । संचित ।

६. किसी काम को बार बार करना । अभ्यास । मश्क (को॰) ।