पूछना

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

पूछना क्रि॰ स॰ [सं॰ पृच्छण]

१. कुछ जानने के लिये किसी से प्रश्न करना । कोई बात जानने की इच्छा से सवाल करना । जिज्ञासा करना । कोई बात दरियाफ्त करना । जैसे,—किसी का नाम पता पूछना, किसी चीज का दाम पूछना ।

२. सहायता करेन की इच्छा से किसी का हाल जानने की चेष्टा करना । खोज खबर लेना । जैसे,—इतने बड़े शहर में गरीबौं को कौन पूछना है?

३. किसी व्यक्ति के प्रति सत्कार के सामान्य भाव प्रकट करना । किसी का कुशल, स्थान आदि गूछना या उससे बैठने आदि के लिये कहना । संबोधन करना । जैसे,—तुम चाहे जितनी देर यहाँ खड़े रहो, तुम्हें कोई पूछनेवाला नहीं । मुहा॰—बात न पूछना = (१) तुच्छ जानकर बातचीत न करना । ध्यान न देना । (२) आदर न करना ।

४. आदर करना । गुण या मूल्य जानना । कद्र कारना । किसी लायक समझना । आश्रय देना । जैसे,—इस शहर में तुम्हारे गुण को पूछनेवाले बहुत कम हैं ।

५. ध्यान देना । टोकना । जैसे,—तुम बेखटके चले जाओ, कोई नहीं पूछ सकता ।