पोती

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी

संज्ञा

स्त्री.

अनुवाद

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

पोती पु संज्ञा स्त्री॰ [हिं॰] दे॰ 'पोत' । उ॰—गर पोती जोति विचारि, ससि चरन फंदय डारि ।—पृ॰ रा॰, १४ ।१५० ।

पोती ^१ संज्ञा स्त्री॰ [हिं॰ पोता] पुत्र की पुत्री । बेटे की बेटी ।

पोती ^२ संज्ञा स्त्री॰ [हिं॰ पोतना]

१. मिट्टी का लेप जो हाँड़िया क ी पेंदी पर इसलिये चढा़या जाता है जिसमें अधिक आँच न लगे ।

२. पानी का वह पुतारा जो मद्य चुवाते समय बरतन पर फेरा जाता है । इससे भभके से उठी हुई भाप उस बरतन में जाकर ठंढी हो जाती है और मद्य के रूप में टपकती है ।

३. पुतारा देने की क्रिया ।

यह भी देखिए