प्रकाशन

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

प्रकाशन ^१ वि॰ [सं॰] प्रकाश करनेवाला । चमकीला । दीप्तिवान् ।

प्रकाशन ^२ संज्ञा पुं॰ [सं॰]

१. विष्णु का एक नाम ।

२. प्रकाशित करने का काम । प्रकाश मे लाने का काम ।

३. किसी पुस्तक के छप जाने पर उसको सर्वसाधारण में प्रचलित करने का काम । जैसे, पुस्तक प्रकाशन । पत्र प्रकाशन । यौ॰— प्रकाशनाधिकार = पुस्तकादि के प्रकाशन का शर्तनामा । दे॰ 'कापीराइट' ।