फँधाना

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

फँधाना पु क्रि॰ अ॰ [हि॰ फंदना] दे॰ 'फँदना' । उ॰— कृपन जु गृह ममता करि बँधे । चलि न सकता दृढ़ फंदनि फँधे ।— नंद॰, ग्रं॰, पृ॰ २४४ ।