फबीला

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

फबीला वि॰ [हिं॰ फबि + ईला (प्रत्य॰)] [वि॰ स्त्री॰ फबीली] जो फबता या भला जान पड़ता हो । शोभा देनेवाला । सुंदर । उ॰—जैसे ही पोहि धरयो ठकुराइन मोती के ये गजरा चट- कीले । वैसेइ आय गए रघुनाथ कह्यो हँसि कौन कहैं ये फबीले । नाव तिहारो हियो कहि मैं तो उठाय लिए सुख पाय ह्वै ढीले । आखि सों लाय रहे पल एक रहे पल छाती सों छवाय छबीले ।—रघुनाथ (शब्द॰) ।